Jharkhand : झारखंड में पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरन के जेल जाने के बाद राजनीतिक नाटक खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। झारखंड मुक्ति मोर्चो गठबंधन के नेता के रूप में चंपई सोरेन मुख्यमंत्री पद की शपथ के लिए तैयार बैठे हैं लेकिन उन्हें राज्यपाल से न्यौता ही नहीं मिल रहा है। वहीं झारखंड में भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता निशिकांत दुबे ने दावा किया है कि शिबू सोरेन चंपई को मुख्यमंत्री नहीं बनाना चाह रहे हैं। वह बसंत सोरेन को मुख्यमंत्री बनाना चाह रहे हैं।

झारखंड में खंड खंड हो रही राजनीति किस करवट होते हुए कहां जुड़ेगी और कहां टूटेगी यह अब आने वाला वक्त बताएगा।

भारतीय जनता पार्टी के सांसद निशिकांत दुबे ने दावा किया है कि “झारखंड के विधायक चार्टर प्लेन से हैदराबाद जा रहे हैं,इस लिस्ट को गौर से देखना चाहिए। 10 पैसेंजर में केवल चार विधायक हैं यानि विधायक हैदराबाद जाने का विरोध कर रहे हैं। चम्पई सोरेन जी को झारखंड मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन जी मुख्यमंत्री नहीं बनाना चाहते हैं,
इस बात को उन्होंने आने सोशल मीडिया हैंडल पर भी जारी किया है।
https://x.com/nishikant_dubey/status/1753054892330234276?t=IiSQYzxGzJHqHgbconaIEQ&s=09

उन्होंने यह भी लिखा है कि झारखंड घोर संवैधानिक संकट में है। झारखंड मुक्ति मोर्चा में टूट पड़ गई है। परेड में राष्ट्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन,विधायक सीता सोरेन और बसंत सोरेन जी नहीं दिखाई दिए। नेता पद और मुख्यमंत्री पद से हेमंत सोरेन ने इस्तीफ़ा दे दिया है। विधायकों की बैठक बुलाने के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने किसको अधिकृत किया है ? सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुसार राष्ट्रीय अध्यक्ष ही सबकुछ होता है। शिबू सोरेन ही अभी तक अध्यक्ष हैं।
उन्होंने यह भी लिखा है कि रांची सर्किट हाउस में हैदराबाद जाने वाले केवल 35 विधायक हैं। सरफराज अहमद विधायक नहीं है और हेमंत सोरेन जी जेल में हैं। अभी सभी विधायक राजभवन जाऐंगे,वहाँ से वे एयरपोर्ट गाय, बकरी की तरह ठूंस के ले जाए जा रहे हैं। झामुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन जी के अनुपस्थिति में यह निर्णय विधायक दल के नेता का कौन लेगा?
सूचना अनुसार शिबू सोरेन जी मुख्यमंत्री बसंत सोरेन जी को बनाना चाहते हैं। झारखंड के राजनीति की खबर दे रहे निशिकांत बे अब झारखंड में क्या करते हैं यह भी देखना दिलचस्प होगा। वह पहले भी महुआ मोइत्रा की राजनीतिक बलि ले चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed