दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सिविल लाइंस स्थित घर पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम द्वारा गुरुवार को छापेमारी के बाद दिल्ली पुलिस ने उनके आवास के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी है। साथ ही वहां अतिरिक्त सुरक्षाकर्मियों को भी तैनात किया गया है।

एक पुलिस अधिकारी ने समाचार एजेंसी को बताया, “उनके आवास के पास आप कार्यकर्ताओं के जमा होने की आशंका को देखते हुए यह तैनाती की गई है।” पुलिस ने उत्तरी दिल्ली में सीएम के आधिकारिक आवास की ओर जाने वाली गली में बैरिकेडिंग कर दी है। सहायक आयुक्त रैंक के पुलिस अधिकारियों को भी वहां तैनात किया गया है।

Arvind Kejrival
Arvind Kejrival

आप के मंत्री आतिशी, सौरभ भारद्वाज, दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल और राजेंद्र नगर विधायक दुर्गेश पाठक पहले ही सीएम आवास पर पहुंच चुके हैं। केजरीवाल के आवास के बाहर तैनात पुलिस बल के बारे में दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि इससे पता चलता है कि ईडी मुख्यमंत्री को गिरफ्तार करने आई है। उन्होंने कहा, “अगर अदालत मामले की सुनवाई के लिए सहमत हो गई है, तो ईडी इतनी बेचैन क्यों है? मनीष सिसोदिया को भी एजेंसी ने बिना किसी सबूत के गिरफ्तार कर लिया।”

राम निवास गोयल ने कहा कि दिल्ली सरकार जेल से चलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि केजरीवाल की गिरफ्तारी पार्टी के लिए एक छोटा सा झटका है। उन्होंने कहा, “… पार्टी और मजबूत होकर उभरेगी। पार्टी और सभी विधायकों ने फैसला किया है कि गिरफ्तारी के बाद सीएम केजरीवाल इस्तीफा नहीं देंगे।” केजरीवाल के घर के बाहर आतिशी ने कहा कि दिल्ली के लोग सीएम अरविंद केजरीवाल से प्यार करते हैं, यही वजह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा “उनसे डरते हैं”।

उन्होंने कहा, “अरविंद केजरीवाल एक व्यक्ति नहीं, एक विचार हैं… हम अंदर नहीं जा सकते क्योंकि वहां भारी सुरक्षा तैनात है। हम यहीं इंतजार करेंगे। अगर एक लोकप्रिय सीएम को इस तरह से गिरफ्तार किया जाता है, तो पूरी दिल्ली से उनके समर्थक यहां आएंगे।” आतिशी ने कहा कि अदालत के फैसले का इंतजार किए बिना ईडी अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने आ गई है।

उन्होंने केजरीवाल के आवास के बाहर रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के जवानों की तैनाती पर भी सवाल उठाया। “अगर यह तलाशी अभियान है, तो वे पुलिसकर्मियों से भरी चार बसें क्यों लाए हैं? रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के जवानों से भरी दो बसें लाने की क्या जरूरत थी?”

उन्होंने कहा, “पूरे इलाके में नाकाबंदी करने की क्या जरूरत थी? यह अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने की साजिश है।”

ईडी अधिकारियों के अनुसार, एजेंसी की टीम केजरीवाल के आवास पर उन्हें समन देने गई थी। इससे कुछ ही देर पहले दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिल्ली आबकारी नीति घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में केजरीवाल को दंडात्मक कार्रवाई से संरक्षण देने से इनकार कर दिया था। ईडी की टीम ने केजरीवाल के स्टाफ को यह भी बताया कि उसके पास तलाशी वारंट है।

आप प्रमुख अब तक इस मामले में जांच एजेंसी के नौ समन पर उपस्थित नहीं हुए हैं।

Read More…

Delhi Liquor Scam : अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया गया तो क्या वे दिल्ली के सीएम पद से इस्तीफा देंगे? विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल ने कहा…

ISIS India Head Arrested : असम के धुबरी में आईएसआईएस इंडिया प्रमुख और सहयोगी गिरफ्तार; एनआईए को सौंपा जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed