बिहार पुलिस में इंस्पेक्टर से पुलिस उपाधीक्षक की रैंक में प्रोन्नति का इंतजार खत्म हो गया है। गृह विभाग ने 163 पुलिस निरीक्षक एवं समकक्ष रैंक के पुलिस पदाधिकारियों को वेतनमान के साथ डीएसपी में उच्चतर कार्यकारी प्रभार दे दिया है।

करीब साढ़े चार साल के बाद डीएसपी का पद प्रोन्नति के जरिए भरा गया है। गृह विभाग की आरक्षी शाखा ने मंगलवार को इससे जुड़ा आदेश जारी कर दिया है। बिहार पुलिस में इस साल करीब साढ़े चौदह हजार पुलिसकर्मियों व पदाधिकारियों को वेतनमान सहित उच्चतर प्रभार दिया है।

जनवरी तक 905 को इंस्पेक्टर, 4826 को दारोगा, 2893 को सहायक अवर निरीक्षक, 1651 को हवलदार आदि में उच्चतर प्रभार दिया जा चुका। इसके अलावा बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस, वितंतु, परिवहन इंस्पेक्टर से लेकर हवलदार तक एवं चालक संवर्ग आदि में भी बड़ी संख्या में उच्चतर प्रभार दिए गए हैं।बिहार प्रशासनिक सेवा के 196 अफसरों का तबादला

बिहार प्रशासनिक सेवा के विशेष सचिव, अपर सचिव, संयुक्त सचिव, अपर समाहर्ता तथा उप सचिव के 196 अफसरों को देश शाम नई जिम्मेवारी सौंपी गई। कई जिलों में नए वरीय उप समाहर्ता, जिला पंचायती राज पदाधिकारी व अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारियों की तैनाती की गयी है।

सामान्य प्रशासन विभाग ने मंगलवार को इस आशय की अधिसूचना जारी की। भारत भूषण को खान एवं भूतत्व विभाग में अपर सचिव, डा. अजय कुमार को पर्यटन विभाग में संयुक्त सचिव, विनोद कुमार को अपर सचिव निबंधक सहयोग समितियां, रमण कुमार सिन्हा को मुख्य महाप्रबंधक बिहार राज्य खाद्य एवं असैनिक आपूर्ति निगम, महफूज आलम को विशेष सचिव राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग का प्रभार सौंपा गया है।

वहीं, भानु प्रकाश को अपर सचिव ग्रामीण विकास विभाग, डा. संजय कुमार को सारण प्रमंडल के आयुक्त का सचिव, सुनील कुमार को महाप्रबंधक बिहार विकास मिशन, मदन कुमार को संयुक्त सचिव, कृषि विभाग, परमानंद कुमार को कोसी प्रमंडल के आयुक्त का सचिव, फातेह फैयाज को संयुक्त सचिव ग्रामीण कार्य विभाग, रामाशंकर को संयुक्त सचिव, निगरानी विभाग. सत्येंद्र कुमार को दरभंगा प्रमंडल के आयुक्त का सचिव. तारानंद महतो वियोगी को अपर समाहर्ता, विभागीय जांच, सुपौल की जिम्मेदारी दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed