ब्रजेश मेहरोत्रा अभी राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में अपर मुख्य सचिव के पद पर काम कर रहे हैं. इसके अलावा संसदीय कार्य विभाग मुख्य जांच आयुक्त सामान प्रशासन विभाग का अतिरिक्त प्रभार में भी हैं. ब्रजेश मेहरोत्रा अगस्त 2024 में रिटायर कर जाएंगे. बता दें कि आमिर सुबहानी का कार्यकाल अप्रैल में पूरा हो रहा था. लेकिन, उससे पहले ही आमिर सुबहानी ने वीआरएस ले लिया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आमिर सुबहानी के वीआरएस आवेदन पर मंजूरी दे दी.

ब्रजेश मेहरोत्रा के अलवा एक अन्य आईएएस अधिकार को महत्वपूर्ण जिम्मेवारी दी गयी है. चैतन्य प्रसाद को नीतीश सरकार ने नया विकास आयुक्त बनाने का फैसला लिया है. इससे संबंधित भी सामान्य प्रशासन विभाग की अधिसूचना जारी हो गई है. चैतन्य प्रसाद अभी अपर मुख्य सचिव जल संसाधन विभाग के अलावा मुख्य सचिव लघु जल संसाधन विभाग के प्रभार में भी थे. चैतन्य प्रसाद 1990 बैच के आईएएस अधिकारी हैं.

आमिर सुबहानी 1987 बैच के आईएएस अधिकारी थे. कुछ दिन पहले उनको एक्सटेंशन दिये जाने की भी चर्चा हो रही थी, लेकिन उससे पहले ही वीआरएस ले लिया. अब वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों में नीतीश कुमार ने मुख्य सचिव और विकास आयुक्त के लिए ब्रजेश मेहरोत्रा और चैतन्य प्रसाद पर विश्वास जताया है. अब इन्हीं दोनों अधिकारियों के नेतृत्व में बिहार में लोकसभा का चुनाव संपन्न होगा.

1989 बैच के आईएएस अधिकारी ब्रजेश मेहरोत्रा बिहार के नए मुख्य सचिव होंगे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आमिर सुबहानी के स्थान पर ब्रजेश मेहरोत्रा को मुख्य सचिव बनाने का फैसला लिया है. सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से शनिवार को इससे संबंधित अधिसूचना जारी कर दी गयी हा. सामान्य विभाग द्वारा जारी पत्र के मुताबिक ब्रजेश मेहरोत्रा 4 मार्च से अपना नया कार्यभार संभालेंगे.

Read More

Up RO – ARO Exam Cancel : पेपर लीक के आरोप में उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग 

PM Modi Visit Bihar : 18 महीने बाद मंच पर साथ नजर आए PM मोदी और CM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed