प्रधानमंत्री (पीएम) नरेंद्र मोदी ने बुधवार को संसद में वायनाड सांसद राहुल गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने ‘युवराज’ को एक ‘स्टार्ट-अप’ बनाकर दिया, लेकिन वह एक ‘नॉन-स्टार्टर’ निकले।

पीएम मोदी राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब दे रहे थे। इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा, युवराज के लिए एक स्टार्ट-अप बनाकर दिया गया। लेकिन वह एक नॉन-स्टार्टर निकले। वह (स्टार्ट-अप) ना तो लिफ्ट हुआ और ना ही लॉन्च हुआ।

‘कांग्रेस की दुकान पर ताला लगाने की नौबत’इससे पहले सोमवार को पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि एक ही प्रोडक्ट को बार-बार लॉन्च करने के चक्कर में कांग्रेस की दुकान पर ताला लगाने की नौबत आ गई है। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के पास पर एक अच्छा विपक्ष के रूप में उभरने का मौका था। लेकिन वह ऐसा करने में विफल रही। उन्होंने आरोप लगाया कि युवा नेताओं को पार्टी में इसलिए आगे नहीं बढ़ने दिया गया कि कहीं वे राहुल गांधी पर भारी न पड़ जाएं।

परिवारवाद का शिकार बने कई कांग्रेस नेता’उन्होंने कहा कि कांग्रेस में कई प्रतिभाशाली लोग हैं। लेकिन पार्टी ने उन्हें खड़े नहीं होने दिया। पीएम मोदी ने कहा, “मैं हमेशा कहता हूं कि देश को एक अच्छे विपक्ष की जरूरत है। हम अधीर बाबू (अधीर रंजन चौधरी) की स्थिति देख सकते हैं। स्थिति यह है कि मल्लिकार्जुन खरगे इस सदन से उस सदन (राज्यसभा) में चले गए हैं। गुलाम नबी आजाद पार्टी से बाहर चले गए हैं। वे सभी परिवारवाद का शिकार बने हैं।”

विपक्षी पार्टी को परिवारवाद से बाहर आने की जरूरत’

उन्होंने कहा, एक प्रोडक्ट (उत्पाद) को बार-बार लॉन्च करने के चक्कर में कांग्रेस की दुकान में ताला लगाने की नौबत आ गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस एक परिवार में उलझ गई है और उसे परिवारवाद से बाहर आने की जरूरत है।

‘करोड़ों परिवारों की नहीं दिख रहीं उपलब्धियां’पीएम मोदी ने कहा, कांग्रेस को देश के करोड़ों परिवारों की आकांक्षाएं और उपलब्धियां दिखाई नहीं दे रही हैं। वह उन्हें देखने को तैयार नहीं है। सदन में मौजूद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और गृहमंत्री अमित शाह का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी अपनी पार्टियां नहीं हैं।

बजट सत्र 31 जनवरी को शुरू हुआ था। यह नौ फरवरी को समाप्त होगा। ‘मोदी सरकार 3.0 में झोंकेगी पूरी ताकत’प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि तीसरे कार्यकाल (मोदी सराकर-3.0) में उनकी सरकार विकसित भारत की नींव को मजबूत करने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक देगी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने बीते दस वर्षों में समाज के सभी तबकों के विकास के लिए काम किया है। प्रधानममंत्री ने कहा कि भारत दुनिया की शीर्ष पांच अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो गया है।

नब्बे मिनट के भाषण में प्रधानमंत्री ने कहा कि सबका साथ केवल नारा नहीं है, बल्कि यह मोदी की गारंटी है। उन्होंने कहा कि सरकार लक्ष्य 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाना है, जब देश आजादी के सौ साल पूरे करेगा। उन्होंने आगे कहा, विकसित भारत सिर्फ शब्दों का खेल नहीं है, बल्कि यह हमारी प्रतिबद्धता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed