रोज सुबह-सुबह जब आप ऑफिस के लिए निकलते हैं, तो आपको यह लगता होगा कि दिल्ली-एनसीआर ही ऐसा है जहां इतना ट्रैफिक जाम लगता है। लेकिन आपका सोचना गलत है।

भारत में दिल्ली और मुंबई नहीं, बल्कि बेंगलुरु और पुणे में सबसे अधिक ट्रैफिक जाम की स्थिति बनी रहती है। ये विश्व के शीर्ष दस देशों में शामिल हैं। यह बात टामटाम ट्रैफिक इंडेक्स रिपोर्ट में सामने आई है। इसमें वर्ष 2023 के दौरान विश्व भर में सबसे अधिक ट्रैफिक जाम की स्थिति को लेकर रिपोर्ट तैयार की गई है।

55 देशों में किया गया मूल्यांकन

टामटाम ट्रैफिक इंडेक्स ने 55 देशों के 387 शहरों का उनके औसत यात्रा समय, ईंधन लागत और कार्बन उत्सर्जन के आधार पर मूल्यांकन किया। यह कार और स्मार्टफोन के नेविगेशन सिस्टम के डेटा पर आधारित है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ब्रिटेन की राजधानी लंदन 2023 में गाड़ी चलाने के मामले में दुनिया का सबसे धीमा शहर रहा। यहां व्यस्त समय में औसत गति 14 किमी प्रति घंटा थी।

बेंगलुरु और पुणे की क्या है स्थिति?

वहीं, दो भारतीय शहर बेंगलुरु और पुणे सबसे खराब यातायात वाले शहरों की सूची में शामिल हैं। इस सूची में बेंगलुरु छठे और पुणे सातवें स्थान पर रहा। बेंगलुरु में 2023 में प्रति 10 किमी की यात्रा का औसत समय 28 मिनट 10 सेकंड था, जबकि पुणे में यह 27 मिनट 50 सेकंड था। पिछले साल बेंगलुरु से यात्रा करने के लिए सबसे खराब दिन 27 सितंबर था, जब 10 किमी ड्राइव करने में औसत यात्रा का समय 32 मिनट दर्ज किया गया था। पुणे में आठ सितंबर ऐसा दिन था, जब 10 किमी की दूरी तय करने में लगभग 34 मिनट लगे थे। इस सूची में दिल्ली का 44वां और मुंबई का 54वां स्थान रहा।

387 शहरों में से 228 में आई औसत गति में कमीरिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली में 2023 में 10 किमी की दूरी तय करने में औसतन 21 मिनट 40 सेकंड और मुंबई में 21 मिनट 20 सेकंड का समय लगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2022 की तुलना में 2023 में यातायात सूचकांक में विश्लेषण किए गए 387 शहरों में से 228 में औसत गति में कमी आई है। 351 शहरों में से 60 प्रतिशत से अधिक में जहां टामटाम ने ईंधन की कीमतें एकत्र कीं, 2021 और 2023 के बीच ईंधन का औसत बजट 15 प्रतिशत या उससे अधिक बढ़ गया।सर्वाधिक ट्रैफिक वाले स्थान

1. लंदन

2. डबलिन

3. टोरंटो

4. मिलान

5. लीमा

6. बेंगलुरु

7. पुणे

8. बुखारेस्ट

9. मनीला

10. ब्रसेल्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed